6 Secrets to a Successful Long-Term Relationship or Marriage (in Hindi)

कोई भी relationship perfect नहीं होती। और कोई भी relationship ऐसी नहीं है जिसमे मेहनत या संघर्ष नहीं है।

हम सभी की ज़िंदगी में यह ख्याल कभी ना कभी तो ज़रूर ही आया होगा

कि हम कैसे अपने रिश्तों को और बेहतर एवं खूबसूरत बना सकते हैं।

यह सोच अच्छी है। अपने रिश्तों को एहमियत देना बहुत अच्छी बात है। काफी अच्छी बात है।

अपने रिश्तों पर काम करने का मतलब यह नहीं है कि उनमें कुछ “कमी” है।

लेकिन बिना कुछ करे केवल इंतज़ार करना कि जब कोई “कमी” लगेगी तो उसपर काम करेंगे,

यह सोच ही आजकल के रिश्तों को खराब करती है।

आपको मुश्किलों के आने का इंतज़ार नहीं करना चाहिये। या एक छोटी सी बात केे बड़े होंने का।

हम आपको आज 6 तरीकों से रूबरू करवाएंगे जो आपके रिश्तों में कुछ सुधार लाएगा।

अपने Relationship को बेहतर बनाने के 6 तरीके

1. Relationship की जाँच कीजिये

अपने partner के साथ बैठ कर थोड़ी जाँच कीजिये।

आप दोनों को खुल कर एक दूसरे से सच बोलना चाहिए कि आप कैसा feel करते हैं।

एक दूसरे को खुल के बात कर पाने में मदद कीजिये।

उन्हें safe feel करवाइये कि वो खुल कर कुछ भी बात कर पाएं। ताकि दोनों ही एक दूसरे से बात करने में किसी भी तरह की झिझक महसूस न करे।

जब आप एक दूसरे से खुल कर बात नहीं कर पाते है तो कई बातें अनकही रह जाती है।

जिसका आपके पार्टनर कुछ भी मतलब निकाल सकते हैं।

क्या आपके पार्टनर कभी अचानक से ही आपके पास कोई प्रॉब्लम लेकर आये। यह तब होता है जब आप एक दूसरे से खुल कर बात नहीं कर पाते।

आप यह सोचते है कि सब ठीक है या आप यह सोच लेते है कि आपको पता है कि आपके पार्टनर कैसा फील कर रहे हैं।

आपको हमेशा एक दूसरे के साथ में बैठ कर पूछना चाहिए कि उनके मन मे क्या है और वो कैसा feel करते है। अगर कोई भी बात है जिसकी वजह से आप दोनों एक दूसरे से खुल कर बात नहीं कर पा रहे है तो उसे दूर करने की कोशिश कीजिये।

कम से कम हफ्ते में एक बार तो ज़रूर आपको यह करना चाहिए।

यदि आपने यह किया तो मेरा विश्वास है कि यह करने से आपके रिश्ते में सुधार अपने आप दिखेगा।

2. छोटी छोटी बातों का ध्यान रखिये

जब आपका रिश्ता नया नया होता है तो उसमें कई छोटी छोटी बातें जुड़ने लगती हैं।

जैसे एक दूसरे को sweet messages भेजना, हाथ पकड़ना, hugs करना, cuddle करना या तो बस compliments देना।

लेकिन टाइम बीतने के साथ साथ इन सब छोटी छोटी बातों में अगर कमी आने लगे तो आपको ध्यान देना चाहिए।

केवल एक मिनट निकाल कर सोचिये कि जब आपका रिलेशनशिप शुरू हुआ था तो ऐसी क्या बातें थी जो आप किया करते थे और अब समय के साथ साथ आपने वो सब करना कम या बंद ही कर दिया है।

आपको वो सब वापिस करना चाहिए।

वो हर दिन की गई छोटी छोटी बातों को नज़रअंदाज़ नहीं करना चाहिए। उन बातों को छोटा ज़रूर बोला जाता है पर यही छोटी छोटी बातें आपके रिश्ते को गहरा बना देतीं है।

3. Phone को दूर रखिये

ध्यान दें कि आपके पार्टनर को आपके साथ वक़्त बिताने के लिए आपके फ़ोन के साथ मुकाबला न करना पड़े।

Phones गज़ब के होते है। आज कल तो इनके बिना रहना ही मुश्किल हो गया है।

लेकिन इसके जितने फायदे है उतने नुकसान भी है। आप खुद सोचिये कि आप दिन में कितनी बार फ़ोन को check करते है?आप कितनी बार फ़ोन में ही देख रहे होते है जब कोई आपसे बात कर रहा होता है? काफी बार। हैना?

ध्यान दीजिए कि आपके रिश्ते में ज़यादा समय बस आप दोनों का ही हो। फ़ोन को दूर ही रखिये।

यदि आप बार बार phone की स्क्रीन की तरफ देखना बंद कर देंगे तो यकीन मानिए आपके रिश्ते आपसे खुद धन्यवाद कहेंगे।

4. किताब पढ़िए

क्या आपको किताब पढ़ना पसंद है?

Personality development बुक्स या फिर रेलशनशिवस पर बुक्स ज़रूर पड़ा कीजिये।

यह books आपको relationships की गहराइयों के बारे में बताती हैं। आप इन्हें पढ़ कर एक दूसरे को और अच्छे से समझ पाते है।

5.Relationship में Space दीजिये

आपके और आपके पार्टनर की अपनी अपनी ज़िंदगी है।

आप दोनों को ज़रूरी नहीं है कि आप अपना सारा का सारा वक़्त बस एक दूसरे के साथ ही बिताएं।

आपके दोनों के पास कुछ ऐसे काम भी होने चाहिए जो बस आप अपनी अपनी खुशी के लिए करते हैं।

एक healthy और happy relationship बहुत खूबसूरत होती है।इसे बनाते बनाते आपको खुद को नहीं खो देना चाहिए।

6. इल्ज़ाम कम करें और ज़िम्मेदारी ज़्यादा उठाये

कितनी बार होता है कि problem आते ही हम  अपने बचाव में खड़े हो जाते है? सभी ऐसा करते है।

कभी कभी हमें अपनी गलतियां दिखाई ही नहीं देती और बस अपने पार्टनर की ही सारी गलतियां दिखाई देने लगती है।

क्या आप जानते है कि अगर हम अपनी अपनी गलतियों की ज़िम्मेदारी उठा कर माफी मांग लें तो कितनी सारी arguments तो अपने आप ही खत्म हो जाएंगी।

लेकिन arguments कभी हो ही नहीं ऐसा वास्तव में संभव होना मुश्किल है। कभी कभी हो जाता है। और हम हमेशा मुश्किल रास्ते ही चुनते हैं। नहीं?

हम इंसान है। हमसे गलतियां हो जाती हैं।

आपको जरूर कुछ बातें याद होंगी जिनमे असहमति के कारण बात जल्दी खत्म होने के बजाय काफी बढ़ गयी थी।

या फिर कुछ ऐसे तर्क जो कि शुरू होने ही नहीं चाहिए थे।

एक दूसरे पर इल्ज़ाम लगाना बहुत आसान है। लेकिन ज़िम्मेदारी उठाना थोड़ा मुश्किल। इसमें अभ्यास लगता है।

यदि अगली बार आप और आपके पार्टनर के बीच में कोई कठिन स्थिति बनती है तो, आप अपनी गलतियां भी ज़रूर देखियेगा।

 

रिश्ते हमेशा ही खूबसूरत, सुंदर और सरल नहीं होते जैसा की हम चाहते हैं। कभी कभी उलझे हुए लगते हैं। यह हमें खूबसूरत और बेहतर इंसान बनाते हैं।

यदि आपके relationship में कभी कभी कठिन समय आता है तो इसका मतलब यह नहीं है की आप अपना रिश्ता खत्म कर दें। इसका मतलब तो बस यह  है कि आपकी relationship भी हर दूसरी रिलेशनशिप की तरह ही है।

तो आपको बस एक दूसरे का ख्याल रखते हुए इसे संभाल कर रखना चाहिए।

क्या आपके मन में कोई ऐसे टिप्स हैं जो एक रिश्ते को बेहतर बनाने में मदद करते हैं? हमें ज़रूर लिख कर बताईएगा।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *